WordPress database error: [Table './indianas_db/wp_wfHits' is marked as crashed and should be repaired]
SELECT MAX(attackLogTime) FROM wp_wfHits

कुंडली में कालसर्प दोष के निवारण हेतु करें यह उपाय - Indian Astrology

WordPress database error: [Table './indianas_db/wp_wfHits' is marked as crashed and should be repaired]
SHOW FULL COLUMNS FROM `wp_wfHits`

 
Know Your daily Horoscope
 

कुंडली में कालसर्प दोष के निवारण हेतु करें यह उपाय


यह योग तब होता है जब कुंडली में राहु और केतु के एक ओर सभी ग्रह आ जाते हैं। कालसर्प दोष (Kaalsarp Dosha) जन्म कुंडली (Kundali) का अत्यधिक जटिल दोष है। कालसर्प योग में जन्मे व्यक्ति का कोई न कोई पक्ष कमजोर रहता है। अत्यधिक कष्ट सहने के बावजूद यश प्राप्ति न होना तथा स्थिरता का अभाव होना आदि कालसर्प योग के प्रमुख दोष हैं। इस दोष का यदि समय पर उपाय न किया जाये तो व्यक्ति परेशान होकर कई बार गलत कदम भी उठा लेता है। कालसर्प दोष स्वास्थ्य, धन व सुख सभी से वंचित कर देता हैं। कालसर्प दोष से बचने के उपाय-

1- पित्रों को दान

– नाग स्तोत्र का नित्य पाठ करना काल सर्प के दोषों को दूर रखता है।

– शनिवार तथा अमावस्या के दिन पित्रों के लिये दान करना चाहिये।

– पीपल वृक्ष की पूजा करना तथा चींटीयों को आटा देना चाहिये।

2 – शिव का पूजन

– कुंडली में कालसर्प दोष (Kaalsarp Dosha) हो तो भगवान शिव का पूजन करें एवं शिव की आराधना से राहु-केतु के दोषों को दूर किया जा सकता हैं। शिवलिंग पर नित्य दूध चढाना चाहिये।

– पंचमी तिथि के दिन नागों को दूध पिलाये या बहते जल में ताम्बे के नाग नागिन प्रवाहित करें। कालसर्प दोषों से मुक्ति मिलेगी।

– कालसर्प दोष (Kaalsarp Dosha) के उपाय के लिये शतचंडी का पाठ करना अत्यधिक लाभदायक होता है।

3- भैरव देव का पूजन

–रुद्राअभिषेक करवाये खासकर श्रावण मास में किया गया पूजन लाभ प्रदान करता है।

– प्रत्येक रविवार भैरव मंदिर में शराब चढायें तथा भैरवदेव का पूजन करना चाहिये ।

– प्रतिदिन या सोमवार के दिन 21 बेलपत्र शिवलिंग पर ओम नम: शिवाय मंत्र बोलकर चढायें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Blogs

Subscribe Daily Horoscope


WordPress database error: [Table './indianas_db/wp_wfHits' is marked as crashed and should be repaired]
SHOW FULL COLUMNS FROM `wp_wfHits`